संसद तक JNU छात्रों का विरोध मार्च, कैंपस के आसपास धारा 144 लागू

18 November 2019 07:11 PM
Hindi
  • संसद तक JNU छात्रों का विरोध मार्च, कैंपस के आसपास धारा 144 लागू

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) का संसद तक विरोध मार्च शुरू हो गया है। छात्र संसद की ओर बढ़ रहे हैं। वहीं इसी बीच जेएनयूएसयू के आसापास धारा 144 लगा दी गई है। छात्रों ने अन्य विश्वविद्यालयों के छात्रों से छात्रावास शुल्क वृद्धि और उच्च शिक्षा को प्रभावित करने वाले अन्य मुद्दों के विरोध में संसद तक निकाले जाने वाले मार्च में शामिल होने की अपील की थी। बता दें कि आज से संसद का शीतकालीन सत्र भी शुरू हो गया है। जेएनयूएसयू ने कहा कि ऐसे समय में जब देश में शुल्क वृद्धि बहुत अधिक पैमाने पर हो रही है, तो समग्र शिक्षा के लिए छात्र आगे आए हैं। हम संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन जेएनयू से संसद तक निकाले जाने वाले मार्च में शामिल होने के लिए सभी छात्रों को आमंत्रित करते हैं। 

PunjabKesari

छात्र संघ ने दिल्ली के बाहर के छात्रों से 18 नवंबर को आंदोलन आयोजित करने की अपील की। वहीं इस मार्च को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। छात्र कैंपस से बाहर न निकलें इसकी पूरी तैयारी भी की गई है। जेएनयू गेट के बाहर भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है। दिल्ली पुलिस ने 9 कंपनी फोर्स तैनात की है, जिसमें पैरामिलिट्री फोर्स भी शामिल है। करीब 1200 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं, जिनमें दिल्ली पुलिस भी शामिल है। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि संसद के शीतकालीन सत्र के लिए संसद के आसपास पूरे क्षेत्र की सुरक्षा कड़ी की है। किसी भी अप्रिय स्थिति को टालने के लिए अन्य जिलों से भी अतिरिक्त पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे।'

PunjabKesari

इसी बीच जेएनयू के कुलपति जगदीश कुमार ने विरोध कर रहे छात्रों से अपील की कि वे अपनी कक्षाओं में लौट आएं, क्योंकि परीक्षाएं नजदीक हैं। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जारी एक वीडियो संदेश में उन्होंने कहा कि उन्हें चिंतित अभिभावकों और छात्रों के ई-मेल आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि हम अभी भी हड़ताल पर अड़े रहे तो इससे हजारों छात्रों के भविष्य पर असर होगा। उन्होंने कहा कि कल से एक नया हफ्ता शुरू होगा और मैं छात्रों से अनुरोध करता हूं कि आप कक्षाओं में वापस आइए और अपने शोध कार्यों को आगे बढ़ाइए। उन्होंने कहा कि 12 दिसंबर से सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू होंगी और अगर आप कक्षाओं में नहीं जाएंगे तो इससे आपके भविष्य के लक्ष्य प्रभावित होंगे।

PunjabKesari


Loading...
Advertisement