शिरडी: साईं बाबा के दर पर PM मोदी, बोले- 2022 तक सबको मिलेगा अपना घर

19 October 2018 06:17 PM
Hindi
  • शिरडी: साईं बाबा के दर पर PM मोदी, बोले- 2022 तक सबको मिलेगा अपना घर

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि साईं बाबा के ‘श्रद्धा और सबुरी’ के संदेश ने मानवता को प्रेरित किया है। मोदी ने महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में विश्व विख्यात मंदिर शहर शिरडी में साईं बाबा की विशेष पूजा-अर्चना करने के बाद विजिटर्स बुक में यह संदेश लिखा। मोदी ने हिंदी में अपना संदेश लिखा, ‘‘मैं साईबाबा के चरणों में इस कामना के साथ झुकता हूं कि साईबाबा के सभी श्रद्धालुओं को उनका आशीर्वाद मिले और उन्हें खुशी तथा शांति मिले।’’

PunjabKesari

बता दें कि शिरडी के साईं बाबा को समाधि लिए हुए आज 100 साल पूरे हो रहे हैं। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर साईं बाबा की याद में चांदी का सिक्का भी जारी किया। इस दौरान पीएम के साथ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस और राज्यपाल विद्यासागर राव भी मौजूद रहे। उल्लेखनीय है कि साईं बाबा का देहावसान 1918 में दशहरा के ही दिन अहमद नगर जिले के शिरडी गांव में हुआ था। हालांकि, शिरडी के साईं बाबा का वास्तविक नाम, जन्मस्थान और जन्म की तारीख आज तक किसी को पता नहीं है। साईं बाबा का जीवनकाल 1838-1918 तक माना जाता है।

PunjabKesari

लाभार्थियों को घर की चाबी सौंपी
मोदी ने साईं बाबा की पूजा के बाद प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के कुछ लाभार्थियों को घरों की चाबियां सौपीं और उनसे बातचीत भी की। प्रधानमंत्री सरकार की किफायती आवास योजना के 40,000 लाभार्थियों के लिए आयोजित ‘ई-गृह प्रवेश’ समारोह में शामिल हुए। यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि मेरी कोशिश रहती है कि मैं हर त्योहार देशवासियों के साथ मनाऊं। इन्होंने कहा कि साईं को याद कर लोगों की सेवा करने के लिए शक्ति मिलती है। मोदी ने कहा कि साईं हर समाज के थे और सारा समाज साईं का था। इस दौरान उन्होंने देशवासियों को दशहरे की शुभकामनाएं भी दीं। 

PunjabKesari

 

जनसभा को किया संबोधित
कांग्रेस-नीत पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि वे गरीबी उन्मूलन को लेकर ‘गंभीर नहीं’ थे और उनका एकमात्र लक्ष्य ‘एक परिवार विशेष के नाम’’ को बढ़ावा देना था। मोदी ने कहा कि हमारी सरकार का लक्ष्य पूरे देश की सेवा करना है। नेहरू-गांधी परिवार पर चुटकी लेते हुए मोदी ने कहा, ‘‘पिछले चार वर्षों में, सरकार ने झुग्गियों में रहने वाले गरीबों को उचित आवास मुहैया कराने के लिए गंभीर प्रयास किए हैं।’’

PunjabKesari

उन्होंने कहा, ‘‘प्रयास अतीत में भी हुआ था लेकिन दुर्भाग्यवश, उनका लक्ष्य गरीबों को छत मुहैया कराने की जगह एक परिवार विशेष के नाम को बढ़ावा देना था। उनका लक्ष्य वोट-बैंक बनाना था। जबकि हमारा लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि 2022 में जब भारत अपना 75वां स्वतंत्रता दिवास मना रहा हो उस वक्त तक कोई बेघर ना रहे। हम गरीबों की बेहतरी के लिए गंभीर प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार ने अपने अंतिम चार साल में गरीबों के लिए सिर्फ 25 लाख मकान बनाए जबकि उनकी सरकार ने इसी अवधि में 1.25 करोड़ मकान बनाए हैं। मोदी ने केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में भी बातचीत की और कम वर्षा होने की पृष्ठभूमि में पानी की कमी से निपटने में महाराष्ट्र सरकार को मदद का आश्वासन दिया।


Advertisement